चार दिन के बाद लगेगा साल 2019 का पहला सूर्यग्रहण

0
18

सूर्य और चंद्रमा पर लगने वाला ग्रहण इंसानों के लिए हमेशा ही कौतूहल का विषय होता है. खासतौर पर सूर्य ग्रहण को लेकर हर कोई रोमांचित रहता है. शायद इसके पीछे कारण यह भी हो कि दिन के वक्त लगभग सभी लोग जगे होते हैं और हर किसी को इसे देखने का अवसर मिलता है. ऐसा ही एक अवसर आपको साल 2019 के पहले ही हफ्ते में देखने को मिलने वाला है. रविवार 6 जनवरी को आंशिक सूर्य ग्रहण होने वाला है. हालांकि यह सूर्यग्रहण भारत में नहीं दिखेगा. यूरोप, मध्य एशिया, अफ्रीका, अमेरिका में ये ग्रहण दिखाई देखा. लेकिन इस दौरान कुछ विशेष बातों का ख्याल जरूर रखना चाहिए.

ग्रहण के वक्त शुभ कार्य करने की सलाह दी जाती है. कहा जाता है कि ग्रहण काल में शुभ काम करना कल्याणकारी रहता है. ग्रहण में स्नान, दान, मंत्र सिद्धि, तीर्थस्नान, जप-पाठ, मंत्र एवं स्तोत्र-पाठ, ध्यान हवन जैसे शुभ काम करना काफी कल्याणकारी माना जाता है. मान्यता है कि सूर्यास्त से पहले दान देने लायक वस्तुओं का संग्रह कर लिया जाना चाहिए. इसके बाद ग्रहण खत्म होने के बाद अगले दिन सूर्योदय के वक्त स्नान कर संकल्प लेकर ब्राह्मणों को दान देना चाहिए.

नववर्ष की शुरुआत जैमिनी और केदार योग में हो रही है. शुक्र व चंद्रमा के एक साथ रहने से जैमिनी योग बना है. जबकि सभी ग्रहों का चार स्थानों पर रहने से केदार योग का संयोग बन रहा है. नए साल की शुरुआत सूर्यग्रहण से हो रही है. 6 जनवरी को है पहला सूर्यग्रहण. दूसरा सूर्य ग्रहण 2 व 3 जुलाई के मध्य है. यह दोनों ही सूर्य ग्रहण भारत में दिखाई नहीं पड़ेंगे. तीसरा सूर्य ग्रहण 26 दिसंबर को लगेगा जो भारत में दिखेगा. ऐसे में इस सूर्यग्रहण पर कुरुक्षेत्र के सरोवर में स्नान होगा. नए साल में पहला चंद्र ग्रहण 21 जनवरी को लगेगा. दूसरा चंद्र ग्रहण 16 जुलाई एवं 17 जुलाई मध्यांतर में लगेगा यह भारत में भी दिखेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here