झारखंड : गोड्डा सीट पर टकराव खत्म होने के आसार, हेमंत बनेंगे बात

0
9
राहुल गांधी के साथ हेमंत सोरेन, आरपीएन सिंह व अजय कुमार. File Photo.

 

हेमंत सोरेन कांग्रेस व राजद नेतृत्व से गोड्डा सीट को लेकर बात करेंगे
इस सीट पर कांग्रेस व झाविमो दोनों दावेदारी जता रहा है

रांची : झारखंड में आम चुनाव 2019 के लिए महागठबंधन के बीच लगभग सभी मुद्दों पर आपसी सहमति है, लेकिन गोड्डा लोकसभा सीट का पेंच ऐसा फंसा हुआ है कि कांग्रेस व झारखंड विकास मोर्चा के नेताओं की बीच जुबानी जंग जारी है. इस संकट को दूर करने के लिए अब झारखंड मुक्मि मोर्चा के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन आगे आये हैं. वे इस सीट को लेकर कांग्रेस हाइकमान और राष्ट्रीय जनता दल के शीर्ष नेतृत्व से बात करेंगे. सोमवार को बाबूलाल मरांडी और हेमंत सोरेन के बीच दो घंटे चली बैठक में इस पर सहमति बनी है.

गोड्डा सीट पर बाबूलाल मरांडी की पार्टी झारखंड विकास मोर्चा और कांग्रेस दोनों दावेदारी जता रही है. झाविमो की ओर से यहां से प्रदीप यादव चुनाव लड़ना चाहते हैं, जबकि कांग्रेस से फुरकान अंसारी इस सीट पर चुनाव लड़ना चाहते हैं. इस सीट का लोकसभा में दोनों नेता पूर्व में प्रतिनिधित्व कर चुके हैं. अभी यहां से भाजपा के तेज-तर्रार नेता निशिकांत दुबे सांसद हैं और भाजपा की ओर से वहीं इस बार भी चुनाव लड़ेंगे, यह लगभग तय है.

गोड्डा सीट के महत्व का आकलन इस बात से भी किया जा सकता है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का चुनाव को लेकर पहला राजनीतिक कार्यक्रम झारखंड में यहीं तय किया गया.

बाबूलाल मरांडी और हेमंत सोरेन के बीच हुई बैठक में प्रदीप यादव भी मौजूद थे. बैठक के बाद महागठबंधन में सीटों को लेकर एक सप्ताह में सहमति बन जाएगी. वहीं, हेमंत सोरेन ने कहा कि कांग्रेस व राजद से वार्ता होगी, उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यकों को महागठबंधन नाराज नहीं करेगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here