राम जन्मभूमि विवाद मामले में आज सुप्रीम कोर्ट में होगी सुनवाई

0
12

नयी दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट आज राम जन्मभूमि-बाबरी मसजिद भूमि विवाद मामले में दायर अपीलों पर सुनवाई करेगा. यह मामला मुख्य न्यायाधीश रंजन गोगई और न्यायमूर्ति संजय किशन कौल की पीठ के सामने सूचीबद्ध है. यह पीठ इलाहाबाद हाइकोर्ट द्वारा सितंबर 2010 के फैसले के खिलाफ दायर 14 अपीलों पर सुनवाई करेगा और तीन सदस्यीय जजों की पीठ के गठन पर विचार किये जाने की उम्मीद है. उल्लेखनीय है कि इस मामले की सुनवाई ऐसे वक्त में हो रही है, जब केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर विभिन्न संगठनों द्वारा इस मामले में अध्यादेश लाने का दबाव है.

हालांकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी न्यूज एजेंसी एएनआइ को इस साल के दिये पहले इंटरव्यू में स्पष्ट कर चुके हैं कि न्यायिक प्रक्रिया पूरी होने के बाद ही अध्यादेश लाने के बारे में निर्णय का सवाल उठेगा. 2010 में इलाहाबाद हाइकोर्ट ने अपने फैसले में 2.77 एकड भूमि को सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा और राम लला के बीच समान रूप से बांटने का आदेश दिया था. इस फैसले के बाद विभिन्न पक्षों ने सुप्रीम कोर्ट में अलग-अलग अपील दायर की थी.

सर्वाेच्च न्यायालय ने पिछले साल 29 अक्तूबर को इस मामले में कहा था कि जनवरी के प्रथम सप्ताह में उचित पीठ के सामने यह मामला सूचीबद्ध होगा, जो इसकी सुनवाई का कार्यक्रम तय करेगी. हालांकि इसके बाद हिंदू महासभा ने अर्जी दायर कर सुनवाई की तारीख पहले तय करने का अनुरोध किया, जिससे कोर्ट ने इनकार कर दिया था.

ध्यान रहे कि 27 सितंबर 2018 को तत्कालीन मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने 2-1 के बहुमत से 1994 के एक फैसले में की गयी टिप्पणी पांच जजों के पास नये सिरे से विचार के लिए भेजने से इनकार कर दिया था. उक्त फैसले में टिप्पणी की गयी थी कि मसजिद इस्लाम का अभिन्न अंग नहीं है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here