विपक्ष को सुप्रीम कोर्ट से बड़ा झटका, 50 प्रतिशत इवीएम की वीवीपैट से मिलान की मांग खारिज

0
3
file photo

नयी दिल्ली : लोकसभा चुनाव में 50 प्रतिशत इवीएम की वीवीपैट से मिलान की विपक्ष की मांग को आज सुप्रीम कोर्ट में बड़ा झटका लगा. इस मांग को लेकर 21 विपक्षी दलों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की थी. शीर्ष अदालत ने आज वीवीपैच पर्चियों के औचक मिलान की मांग को लेकर दायर समीक्षा याचिका को खारिज करते हुए कहा कि अदालत अपने आदेश को संशोधित करने के लिए तैयार नहीं है.

सुप्रीम कोर्ट ने इससे पहले हर विधानसभा के पांच बूथों की इवीएम का वीवीपैट से मिलान करने का फैसला दिया था. इस फैसले पर पुनर्विचार के लिए विपक्षी दलों ने फिर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की.

विपक्षी दलों के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का हम सम्मान करते हैं. उन्होंने कहा कि उनकी याचिका इवीएम को लेकर नहीं बल्कि वीवीपैट को लेकर है.

विपक्षी दलों की मांग थी कि कम से कम 50 प्रतिशत इवीएम का वीवीपैट से मिलान हो लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई करते हुए कहा कि एक ही मामले को बार-बार नहीं सुना जा सकता है. हालांकि अपनी दलीलें अदालत के सामने रखते हुए अभिषेक मनु सिंघवी ने कहा कि 50 प्रतिशत मिलान संभव नहीं हो तो 25 प्रतिशत मिलान की सुविधा रखी जाए.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here