एसइओ सम्मिट में बोले पीएम मोदी, आतंकवाद को प्रोत्साहन देने वालों को जिम्मेवार ठहराना जरूरी

0
4
एससीओ सम्मिट में संबोधित करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. एएनआइ फोटो

 

बिश्केक : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज कर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक में आयोजित एसइओ सम्मिट यानी संघाई काॅपरेशन ऑर्गेनाइजेशन के सम्मेलन को संबोधित किया. प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री ने आतंकवाद के मुद्दे को प्रमुखता से उठाया. उन्होंने कहा कि आतंकवाद को प्रोत्साहन, समर्थन एवं वित्तीय सहायता प्रदान करने वाले राष्ट्रों को जिम्मेदार ठहराना जरूरी है. प्रधानमंत्री ने एसइओ के सदस्य राष्ट्रों से कहा कि हम सभी को आतंक के खिलाफ एकजुट होना चाहिए. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि वे अपनी पिछली श्रीलंका यात्रा के दौरान सेंट एंटनी चर्च गए, जहां पर आतंकियों ने हमला किया था.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि साहित्य व संस्कृति हमारे समाज को साकारात्मक दिशा दे सकता है और इससे युवाओं के अतिवाद की ओर रूझान को रोकने में मदद मिल सकती है.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने संबोधन में कहा कि एससीओ के पूर्ण सदस्य के रूप में भारत के दो साल हो चुके हैं. उन्होंने कहा कि हमने एससीओ की सभी गतिविधियों में सकारात्मक योगदान दिया है. उन्होंने कहा कि हमने अंतरराष्ट्रीय क्षेत्र में एससीओ की भूमिका और विश्वसनीयता में वृद्धि के लिए व्यापक इंगेजमेंट जारी रखे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि एससीओ क्षेत्र एवं भारत के इतिहास, सभ्यता व संस्कृति हजारों साल से परस्पर जुड़े रहे हैं. उन्होंने कहा कि कि हमारा साझा क्षेत्र एवं आधुनिक युग में बेहतर कनेक्टिविटी बहुत आवश्यक है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इंटरनेशनल नार्थ-साउथ ट्रांसपोर्ट काॅरिडोर, चाबाहार पोर्ट और ऐशगाबाद समझौते जैसे इनिशिएटिव पर भारत के फोकस का उल्लेख किया.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here