रेलवे गार्ड की बहादुरी को आप देखकर रह जायेंगे दंग

0
33

 बेंगलुरू : आमतौर पर सरकारी कर्मचारियों के कामकाज में लापरवाही की खबरें मीडिया की सुर्खियां बनती है. उनके अच्छे काम को सराहा कम जाता है. लेकिन रेलवे के एक गार्ड ने जान हथेली में रखकर अपनी ड्यूटी इस तरह निभायी की लोग उनकी बहादुरी की प्रशंसा करते नहीं थक नहीं रहे हैं.विष्णुमूर्ति ट्रेन नंबर 16219 चमराजनगर – तिरूपति एक्सप्रेस में गार्ड के पद पर तैनात हैं.

बुधवार को अचानक से यह श्रीरंगपट्टनम रेलवे स्टेशन के नजदीक बंद हो गया था. गार्ड को पता चला कि कुछ शरारती तत्वों ने चैन पुलिंग कर दिया है. जब चैन पुल किया गया तो ब्रेकिंग सिस्टम एक्टिवेट हो गया. अब ट्रेन अचानक से रूक गयी. इसे फिर से चालू करने के लिए अनुभवी स्टॉफ की जरूरत पड़ी.

विष्णुमूर्ति ने अपने जान पर खेलकर ग्रिडर पुल पर चलकर काम किया. इस काम को करने में उसे दस मिनट लगे. बाद में उस शरारती लड़के को पकड़ भी लिया गया. उधर गार्ड विष्णुमूर्ति के इस बहादुरी को लेकर अजय कुमार सिंह रेलवे जीएम ने एक सर्टिफिकेट और 5000 की नगद राशि इनाम में दिया. विष्णुमूर्ति ने 1988 में रेलवे की नौकरी ज्वाइन की थी.

 

बता दें कि इस स्थान पर थोड़ा सा भी पैर फिसलने से गार्ड की जान जा सकती थी. आप इस वीडियो को देखकर रेलवे के गार्ड का बिना तारीफ किये नहीं रह सकते हैं.

 

 

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here