इसरो ने रडार इमेजिंग निगरानी उपग्रह आरआइसैट – 2बी का किया सफल प्रक्षेपण

0
5

 

श्रीहरिकोटा : भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो ने बुधवार को तड़के रडार इमेजिंग निगरानी उपग्रह आरआइसैट – 2बी #RISAT2B  का पृथ्वी की निचली कक्षा में प्रक्षेपण किया. यह प्रक्षेपण सफल रहा. यह उपग्रह हर मौसम में काम करेगा. भारत ने सात के लंबे समय अंतराल पर इस तरह की निगरानी सैटलाइट का प्रक्षेपण किया है. इस सफल प्रक्षेपण के बाद भारत अब खराब मौसम में भी देश के अंदर दुश्मन देशों और भारतीय सीमाओं की निगरानी कर सकेगा. इस प्रणाली से भारत अपने बड़े सैन्य आपरेशन व स्ट्राइक की तसवीर ले सकेगा. जैसे बालाकोट एयरस्ट्राइक की तसवीरें लेना अब मुमकिन होगा.

इसरो ने इस संबंध में कहा है कि पीएसएलवी सी 46 राॅकेट के 48वें मिशन के जरिए सुबह साढे पांच बजे श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से आरआइसैट – 2 बी को प्रक्षेपित किया गया. यह उपग्रह 615 किलोग्राम वजन का है और इसे प्रक्षेपण के करीब 15 मिनट बाद पृथ्वी की निचली कक्षा में छोड़ा गया.

इसरो भविष्य में निगरानी उपग्रहों की एक पूरी फौज तैयार करने की योजना पर काम कर रहा है. इस देश का सुरक्षा तंत्र बेहद मजबूत हो जाएगा. आने वाले दिनों में इसरो कई और उपग्रहों को प्रक्षेपित करेगा.

एक्सपर्ट के अनुसार, पृथ्वी की निचली कक्षा में चक्कर काटते हुए इन उपग्रह की मदद से भारत अब पूरे देश एवं पड़ोसी देशों पर व्यापक निगरानी रख सकेगा. आकाश में बादल रहने व अंधेरा होने की स्थिति में भी यह उपग्रह आसानी से तसवीरें ले सकेगा. इसके कैमरे की नजर से कुछ भी बच पाना मुश्किल होगा. एक्टिव सेंसर वाला यह उपग्रह करीब पांच साल तक काम करेगा. इस उपग्रह से बालाकोट जैसे आपरेशन की तसवीरें लेना आसान होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here