शीतकालीन सत्र में राहुल ने दोहराई राफेल घोटाले की बात

0
19

नयी दिल्ली : बुधवार को संसद के शीतकालीन सत्र में आज राफेल मुद्दे पर बहस के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर जमकर हमला बोला और राफेल में घोटाले की बात दोहराई. राहुल गांधी ने लोकसभा में राफेल को लेकर पीएम मोदी को घेरा और अनिल अंबानी को कॉन्ट्रैक्ट दिलवाने का आरोप लगाया, तो वहीं सरकार की ओर से वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी पलटवार किया और अगस्ता वेस्टलैंड, नेशनल हेराल्ड और बोफोर्स समेत कई मामलों पर राहुल को गांधी पर काउंटर अटैक किया. आज संसद का शीतकालीन सत्र इसलिए भी अहम है क्योंकि राहुल गांधी ने पीएम मोदी को आमने-सामने बैठकर 20 मिनट तक बहस करने की चुनौती दी है.

इतना ही नहीं, राहुल गांधी ने पीएम मोदी के लिए आज के बहस के संदर्भ में कुछ सवालों की लिस्ट भी दी है. अब देखना होगा कि राफेल पर राहुल का जवाब देने के लिए पीएम मोदी लोकसभा में आते हैं या नहीं. वहीं, राज्यसभा में भी ट्रिपल तलाक बिल पेश होने की संभावना है. लगातार हंगामे की वजह से कार्यवाही स्थगित हो जा रही हैं, जिसकी वजह से तीन तलाक विधेयक को चर्चा के लिए राज्यसभा में नहीं पेश किया जा सका है.

 

लोकसभा की कार्यवाही 2 बजे तक स्थगित कर दी गई है. सदन में हंगामा को लेकर चार दिनों के लिए लोकसभा से 19 सांसद सस्पेंड. बता दें कि कल भी 24 सासंदों को स्पीकर ने सस्पेंड किया था. ये सांसद ना केवल वेल में जाकर हंगामा कर रहे थे बल्कि कागज के टुकड़े चेयर पर फेक रहे थे. बताया जा रहा है कि आज लोकसभा में राहुल गांधी के सवालों का रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण जवाब देंगी.

सबरीमाला मंदिर मामले पर कांग्रसे सासंदों ने सदन के कार्यस्थगन का प्रस्ताव दिया. राष्ट्रीय जनता दल सांसद जेपी यादव ने भारतीय सेना से अहीर अथवा यादव रेजिमेंट को हटाए जाने के मुद्दे पर लोकसभा में कार्यस्थगन प्रस्ताव का नोटिस दिया है.

 

संसद सत्र : लोकसभा में आज राफेल व राज्यसभा में तीन तलाक पर हंगामे के आसार

नयी दिल्ली : लोकसभा में आज राफेल तो राज्यसभा में तीन तलाक बिल पर हंगामे के आसार हैं. गुरुवार को दूसरे दिन राफेल पर चर्चा होगी. कल राफेल विमान सौदे पर लोकसभा में चर्चा की शुरुआत हुई थी, लेकिन यह पूरी नहीं हो पायी. बार-बार अन्नाद्रमुक सांसदों के वेल में आने के कारण स्पीकर सुमित्रा महाजन ने उनके 24 सांसदों को सस्पेंड कर दिया और सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी. ऐसे में आज राफेल पर सदन में आगे की चर्चा होगी और फिर इस पर सरकार की ओर से जवाब भी आएगा.

वहीं, राज्यसभा में सरकार आज तीन तलाक चर्चा व पारित करने के लिए पेश करेगी. 31 दिसंबर को राज्यसभा में भारी हंगामे के कारण इस बिल पर चर्चा नहीं हो सकी थी. लोकसभा ने इस बिल को पिछले सप्ताह गुरुवार को पारित कर दिया था. हालांकि एकजुट विपक्ष इस बिल का तीखा विरोध कर रहा है और उसकी मांग है कि इसे ज्वाइंट सलेक्ट कमेटी के पास भेज जाए. हालांकि सरकार ने विपक्ष की इस मांग को खारिज कर दिया है. सरकार को इस बिल को पारित करवाने में कुछ गैर एनडीए दलों का समर्थन चाहिए होगा, क्योंकि उच्च सदन में उसके पास अपना बहुमत नहीं हैं. नवीन पटनायक की बीजू जनता दल ने पिछले दिनों एलान किया था कि वह तीन तलाक बिल का कुछ सुधार के साथ समर्थन करेगी. बीजद के नौ सांसद उच्च सदन में हैं. वहीं, वाइएसआर कांग्रेस के दो सांसद हैं और उनका भी समर्थन मिल सकता है.

इसके अलावा भी संसद में आज कई अहम काम प्रस्तावित हैं. लोकसभा में कंपनी संशोधन विधेयक, नयी दिल्ली अंतरराष्ट्रीय मध्यस्थता केंद्र विधेयक 2018, राष्ट्रीय चिकित्सा आयोग विधेयक 2018 आज पेश होने व पारित करने के लिए सूचीबद्ध है. केंद्रीय कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने तीन तलाक बिल पर समर्थन के लिए सभी पक्षों से अपील की है. उन्होंने कहा कि सरकार विपक्ष के खुलेमन से दिये गये सुझाव पर विचार करने के लिए तैयार है. उन्होंने कहा कि अभी भी तलाक हो रहे हैं और संसद के लोग मुसलिम पीडि़त महिलाओं की पीड़ा पर विचार करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here