IND vs AUS: निर्णायक मैच में आस्‍ट्रेलिया ने भारत को 35 रन से हराकर श्रृंखला जीती

0
12
photo soruce: Twitter/@cricketcomau

नई दिल्‍ली। फिरोजशाह कोटला मैदान में खेले गए अंतिम एवं निर्णायक मैच में आस्‍ट्रेलिया ने उस्‍मान ख्‍वाजा के शतक और पीटर हैंड्सकॉम्‍ब के अर्द्धशतक और गेंदबाजों के दम पर भारत को 35 रन से शिकस्‍त दी। आस्‍ट्रेलिया ने पहले बल्‍लेबाज करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 9 विकेट खोकर 272 रन बनाए थे। जिसके जवाब में निरंतर अंतराल पर विकेट गंवाने वाली भारतीय टीम ने 50 ओवर में सभी विकेट खोकर 237 रन बनाए। इसके साथ ही आस्‍ट्रेलिया ने पांच एकदिवसीय मैचों की श्रृंखला पर कब्‍जा कर लिया। शुरुआती दो मैच हारने के बाद आस्‍ट्रेलिया ने जबरदस्‍त वापसी की और हर क्षेत्र में भारत पर भारी पड़ी।

ख्‍वाजा का शतक
टॉस जीतकर पहले बल्‍लेबाजी करने उतरी आस्‍ट्रेलिया के सलामी बल्‍लेबाजों ने टीम को अच्‍छी शुरूआत दी। मेजबान टीम का पहला विकेट 15वें ओवर की तीसरी गेंद पर 76 रन पर गिरा। कप्‍तान आरोन फिंच को रविंद्र जडेजा ने क्‍लीन बोल्‍ड कर दिया। आरोन ने 43 गेंदों की अपनी पारी में 4 चौकों की मदद से 27 रन बनाए। कप्‍तान के जाने के बाद पीटर ने उस्‍मान ख्‍वाजा को बेहतरीन साथ निभाया। दोनों की जोड़ी ने 99 रन की साझेदारी की। उस्‍मान ख्‍वाजा ने इस दौरान अपना शतक पूरा। 33वें ओवर की अंतिम गेंद पर भुवनेश्‍वर कुमार ने ख्‍वाजा को विराट कोहली के हाथों लपकवाया। ख्‍वाजा जब आउट हुए तब कंगारू टीम के बोर्ड पर 175 रन टंगे हुए थे। ख्‍वाजा ने 106 गेंदों की पारी में 2 छक्‍कों और 10 चौकों की मदद से 100 रन बनाए।

पीटर का अर्द्धशतक
अभी टीम के स्‍कोर में तीन रन और जुड़े थे कि ग्‍लेन मैक्‍सेवल जडेजा के शिकार बने। उन्‍हें कप्‍तान कोहली ने लपका। ग्‍लेन 3 गेंद में मात्र एक रन बनाकर पवेलियन वापस लौटे। इसके बाद पीटर मोहम्‍मद शमी का शिकार बने। पीटर ने 60 गेंदों पर 4 चौकों की मदद से 53 रन बनाए। पिछले मैच में शानदार प्रदर्शन करने वाले एश्‍टन टर्नर लंबी पारी नहीं खेल पाए। टर्नर ने 20 गेंदों पर 2 चौकों और एक छक्‍के की मदद से 20 रन बनाए। टर्नर कुलदीप यादव का शिकार बने। उन्‍हें जडेजा ने लपका। मार्कस स्‍टॉयनिस भी 20 रन बनाकर आउट हुए। उन्‍हें भुवनेश्‍वर ने क्‍लीन बोल्‍ड किया। मार्कस ने 27 गेंदों की पारी में एक चौका और एक छक्‍का जड़ा। 9 गेंदों पर 3 रन बनाने वाले एलेक्‍स कैरी को मोहम्‍मद शमी की गेंद पर विकेट के पीछे ऋषभ पंत ने लपका। पैट कमिंस ने 8 गेंदों पर 2 चौकों की मदद से 15 रन बनाए। भुवनेश्‍वर ने उन्‍हें अपनी ही गेंद पर लपका। जाय रिचर्डसन ने अच्‍छे खेल का प्रदर्शन किया और टीम के स्‍कोर को सम्‍मानजनक स्थिति में पहुंचाने के लिए अपना महत्‍वपूर्ण योगदान दिया। जाय मैच की अंतिम गेंद पर रन आउट हुए। उन्‍हें विराट कोहली ने रन आउट किया। जाय ने 21 गेंदों पर 3 चौकों की मदद से 29 रन बनाए। नाथन लियोन 1 रन पर नाबाद रहे।

सस्‍ते में आउट हुए धवन-कोहली
लक्ष्‍य का पीछा करने उतरे भारत को पहला झटका 15 रन पर शिखर धवन के रूप में लगा। धवन को पैट ने कैरी के हाथों कैच आउट करवाया। पिछले मैच में शतकीय पारी खेले वाले धवन ने 15 गेंदों पर दो चौकों की मदद से 12 रन बनाए। अपने घरेलू मैदान में खेलने उतरे कप्‍तान कोहली लंबी पारी नहीं खेल पाए। कोहली को कैरी ने मार्कस की गेंद पर लपका। कोहली ने 22 गेंदों पर 2 चौकों की मदद से 20 रन बनाए। रोहित और कोहली के बीच दूसरे विकेट के लिए 53 रन की साझेदारी हुई। पंत से भारतीय टीम को बड़ी उम्‍मीद थी, परंतु वे अच्‍छी शुरूआत को लंबी पारी में नहीं बदल पाए। 16 रन पर खेल रहे पंत नाथन लियोन का शिकार बने। 18 रन पर खेल रहे विजय शंकर एडम जाम्‍पा का शिकार बने। उन्‍हें ख्‍वाजा ने लपका। भारत 120 रन पर 4 विकेट खोकर संकट में फंस गया। इस बीच रोहित ने अपने एकदिवसीय करियर में 8 हजार रन पूरे किए।

रोहित का अर्द्धशतक, भुवी-केदार के बीच 91 रन की साझेदारी
दूसरे छोर पर गिरते विकेटों के बीच रोहित को एडम जाम्‍पा की गेंद पर दो बार जीवनदान मिला। रोहित इसका ज्‍यादा फायदा नहीं उठा पाए। रोहित ने एडम की एक गेंद पर बड़ी हिट लगाने का प्रयास में वे क्रीज से बाहर आ गए। विकेटकीपर कैरी ने उनकी गिल्लियां बिखरेने में जरा सी भी देर नहीं लगाई। रोहित ने 89 गेंदों की अपनी पारी में 4 चौके की मदद से 56 रन बनाए। एडम ने उसी ओवर में रविंद्र जडेजा को भी स्‍टंप आउट करवाया। जडेजा खाता भी नहीं खोल पाए। रोहित और जडेजा के आउट होने के बाद भारतीय टीम पर जबरदस्त दबाव आ गया। इसके बाद सातवें विकेट के लिए भुवनेश्‍वर और केदार जाधव ने संभलकर खेलना शुरू किया। दोनों जब दोनों जम गए तो उन्‍होंने चौके और छक्‍के लगाकर दर्शकों के मन उम्‍मीद जगा दी। भुवी ने पैट की गेंद पर बड़ा हिट लगाने का प्रयास किया और आरोन के हाथों लपके गए। 46वें ओवर की आखिरी गेंद में आउट होने वाले भुवी ने 54 गेंदों में 2 छक्‍के और तीन चौकों की मदद से 46 रन बनाए। अगले ओवर में केदार रिचर्डसन का शिकार बने। केदार ने 57 गेंदों पर एक छक्‍के और 4 चौकों की मदद से 44 रन बनाए। केदार के आउट होते ही भारतीय टीम की जीत की आस भी खत्‍म हो गई। शमी 3 रन बनाकर रिचर्डसन का शिकार बने। 50वें ओवर की अंतिम गेंद पर कुलदीप यादव मार्कस का शिकार बने। कुलदीप ने 12 गेंदों में एक चौके की मदद से 8 रन बनाए। बुमराह एक रन बनाकर नाबाद रहें।

IND vs AUS: धवन के शतक भारी पड़े हैंड्सकॉम्ब, भारत को हरा बराबरी पर पहुंचा आस्‍ट्रेलिया

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here