Ind vs Aus: पुजारा-पंत ने आस्‍ट्रेलिया को बैकफुट पर भेजा, 622/7 पर पारी घोषित

0
9
photo source: Twitter/@bcci

नई दिल्‍ली। सिडनी मैच में भारतीय बल्‍लेबाजों ने मेजबान टीम को बैकफुट पर धकेल दिया हैं। पुजारा के बाद ऋषभ पंत के शतक और रविंद्र जडेजा के शानदार खेल की बदौलत भारत ने 7 विकेट के नुकसान पर 622 रन पर पारी घोषित की। जिसके जवाब में आस्‍ट्रेलिया ने दूसरे दिन का खेल खत्‍म होने बिना किसी नुकसान 24 रन बना लिए हैं। चौथे टेस्‍ट मैच में मेजबान टीम पहली पारी के आधार पर अभी भी 598 रन से पीछे है।

पुजारा-विहारी की शतकीय साझेदारी
कल के नाबाद बल्‍लेबाज चेतेश्‍वर पुजारा और हनुमा विहारी ने पांचवें विकेट के लिए शतकीय साझेदारी की। इस जोड़ी को नाथन लियोन ने तोड़ा। 102वें ओवर की आखिरी गेंद पर हनुमा विहारी ने स्‍वीप करने की कोशिश। बल्‍ले को छूती हुई गेंद हनुमा की बाजू से टकराई और शॉर्ट लेग पर मानर्स लाबुशेन ने उसे लपकने में चूक नहीं की। अंपायर के आउट करार दिए जाने के बाद भारत ने रिव्‍यू लिया। परंतु रिव्‍यू आस्‍ट्रेलिया के पक्ष में गया। हनुमा 95 गेंदों में 5 चौकों की मदद से 42 रन बनाए। इसके बाद पुजारा ने पंत के साथ मिलकर भारतीय पारी को विशाल स्‍कोर की तरफ बढ़ाना शुरू कर दिया। पुजारा जब अपने दोहरे शतक से जब मात्र सात रन ही दूर थे कि लाथन ने उनकी शानदार पारी का अंत कर दिया। 130वें ओवर की आखिरी गेंद पर नाथन ने पुजारा को अपनी ही गेंद पर लपक लिया। पुजारा ने 373 गेंदों का सामना करते हुए 22 चौकों की मदद से 193 रन की शानदार पारी खेली। पुजारा जब पवेलियन लौटे तो दर्शकों की तालियों से पूरा स्‍टेडियम गूंज उठा। पंत और पुजारा ने भारत के लिए छठे विकेट के लिए 89 रनों की साझेदारी की।

पंत-जडेजा का धमाल
पुजारा के बाद मैदान में उतरे रविंद्र जडेजा ने पंत के साथ मिलकर सातवें विकेट के लिए तेजी से रन बटोरने शुरू किए। पंत ने धमाकेदार बल्‍लेबाजी करते हुए अपना शतक पूरा किया। पंत की ये टेस्‍ट मैच में दूसरी शतकीय पारी है। इसके साथ पंत आस्‍ट्रेलियाई धरती पर टेस्‍ट मैच में शतक जमाने वाले पहले भारतीय विकेटकीपर बल्‍लेबाज भी बन गए। नाबाद 159 रन बनाने वाले पंत ने पूर्व कप्‍तान महेंद्र सिंह धौनी का विकेटकीपर के रूप में सर्वाधिक रन बनाने का भारतीय रिकॉर्ड भी तोड़ दिया। धौनी ने फैसलाबाद में 2006 में खेले गए टेस्‍ट मैच पाकिस्‍तान के खिलाफ नाबाद 148 रन बनाए थे। पंत ने 189 गेंदों की पारी में 1 छक्‍का और 15 चौके भी जड़े। पंत-जडेजा की जोड़ी ने सातवें विकेट के लिए मात्र 224 गेंदों पर 204 रनों की दोहरी शतकीय साझेदारी की। ये भारतीय बल्‍लेबाजों की टेस्‍ट में सातवें विकेट के लिए दूसरी सबसे बड़ी साझेदारी है। इस जोड़ी को लियोन ने जडेजा को क्‍लीन बोल्‍ड करके तोड़ा। जडेजा ने 114 गेंदों में 7 चौकों और एक छक्‍के की मदद से शानदार 81 रन बनाए। 622 रन पर जडेजा के आउट होते हुए भारत ने पारी घोषित कर दी। रनों के लिहाज से सिडनी में ये भारत को दूसरा बड़ा स्‍कोर है। भारत ने 2004 में 705 रन बनाकर पारी घोषित की थी। उस समय भी भारत के सात विकेट ही गिरे थे।

पंत ने दिया ख्‍वाजा को जीवनदान
आस्‍ट्रेलिया ने दूसरे दिन बचे दस ओवर के खेल के लिए मार्कस हैरिस और उस्मान ख्वाजा को क्रीज पर भेजा। इस दौरान पंत ने मोहम्‍मद शमी की गेंद पर ख्‍वाजा को एक जीवनदान दे दिया। दिन का खेल खत्‍म होने तक मार्कस हैरिस 19 रन बनाकर ख्‍वाजा 5 रन पर खेल रहे थे। मेजबान टीम ने बिना किसी नुकसान के 24 रन बना लिए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here