‘सहमति के बाद भी मरीज से शारीरिक संबंध नहीं बना सकते डॉक्‍टर’

0
9
photo soruce: theconversation.com

नई दिल्‍ली। मेडिकल काउंसिल ऑफ इंडिया (एमसीआई) ने एक नया दिशानिर्देश जारी किया है, जिसमें कहा गया है कि डॉक्‍टर और मरीज के बीच शारीरिक संबंध अनुचित है, चाहे ये संबंध मरीज की सहमति के बाद क्‍यों न बने हों। दिल्ली उच्‍च न्‍यायालय द्वारा यौन दुर्व्यवहार को लेकर जारी गाइडलाइन को लेकर पूछे गए सवाल के बाद एमसीआई ने यह दिशानिर्देश जारी किए हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार डॉक्‍टरों और अस्‍पताल में इलाज के लिए आए मरीजों के बीच शारीरिक संबंध के कई मामले सामने आए हैं। जिसमें डॉक्‍टर अपने बचाव में ये दलील देते हैं कि इन शारीरिक संबंधों के पीछे मरीज की भी सहमति थी। MCI के अब जारी किए गए नए दिशानिर्देशों में स्‍पष्‍ट कहा गया है कि डॉक्‍टर किसी भी मरीज से उसकी सहमति के बाद भी शारीरिक संबंध नहीं बना सकते। दिशानिर्देश में आगे ये भी कहा गया है कि मरीज शारीरिक संबंध बनाने के लिए अपनी तरफ से पहल करें तब भी डॉक्‍टर को ऐसे किसी भी रिश्‍ते को स्‍वीकार करना सही नहीं है।

दिल्‍ली उच्‍च न्‍यायालय ने अमेरिका में भारतीय मूल एक डॉक्‍टर के मामले में संज्ञान लेते हुए एमसीआई से इस बारे में उसका रूख साफ करने के बारे में कहा था। ये डॉक्‍टर एमसीआई से संबद्ध था। साथ ही अदालत ने इस मामले में सख्‍त और स्‍पष्‍ट कदम उठाने का निर्देश दिया था। जिसके बाद एमसीआई ने ये दिशानिर्देश जारी किए थे।

अंतरिक्ष में सेक्‍स! मुश्किल, लेकिन नामुमकिन नहीं

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here