मैंने बनारस से चुनाव लड़ने का एलान किया तो मोदी ने सफाईकर्मियों के पैर धोए : चंद्रशेखर रावण

0
21
File Photo.

चंद्रशेखर रावण ने कहा कि रोहित वेमुला की शहादत व भीमा कोरेगांव को याद रखना

चंद्रशेखर आजाद रावण ने सपा मुखिया अखिलेश यादव पर भी निशाना साधा

नयी दिल्ली : भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर रावण आज जंतर-मंतर पहुंचे और भाजपा एवं नरेंद्र मोदी सरकार पर निशाना साधा. भीम आर्मी चीफ ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि वोट देने से पहले रोहित वेमुला की शहादत और भीमा कोरेगांव को याद रखना. उन्होंने कहा कि भगवाड़ा की शहादत याद है न. चंद्रशेखर रावण ने कहा कि किसने गोली चलायी किसने हमारे लोगों को मारा.

उन्होंने कहा कि अत्याचारी अत्याचारी होता है, वह कभी तुम्हारा हितैषी नहीं हो सकता है. मनुवादी कभी तुम्हारा नहीं हो सकता है. उन्होंने कहा कि इसीलिए मैंने कहा कि भीमा-कोरेगांव दोहरा देंगे, अभी उसकी जरूरत नहीं आयी है, जिस दिन देश के संविधान पर आंच आयी, भीमा कोरेगांव दोहरा देंगे.

चंद्रशेखर आजाद रावण ने दिल्ली में बहुजन हुंकार रैली को संबोधित करते हुए कहा कि बाबा साहेब के बच्चे एलान कर रहे हैं कि मोदी जी को दिल्ली की गद्दी छूने नहीं देंगे. मालूम हो कि चंद्रशेखर वाराणसी से प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ चुनाव भी लड़ने वाले हैं. चंद्रशेखर ने कहा कि वे काम करके दिखा देंगे.

चंद्रशेखर ने कहा कि संघर्ष में आदमी अकेला होता है, सफलता में भीड़ होती है. उन्होंने कहा कि गठबंधन कैसे होता है यह काशीराम ने बताया है. उन्होंने कहा कि जो भी बहुजनों से उलझेगा वह फना हो जाएगा.

उन्होंने कहा कि वे संविधान बचाने के लिए लड़ रहे हैं और जेल जाने से नहीं डरते हैं. उन्होंने कहा कि मैंने बनारस से चुनाव लड़ने का एलान किया तो मोदी ने सफाई कर्मियों के पैर धोए. उन्होंने कहा कि यह लड़ाई 85 प्रतिशत बनाम 15 प्रतिशत का है.

चंद्रशेखर ने अखिलेश यादव पर निशाना साधा और कहा कि उन्होंने अपने शासन में हमारी कीमत कम लगायी. 58 हजार दलित कर्मचारियों का डिमोशन किया गया. हमारे बिल को लेकर उन्होंने कुछ नहीं बोला. उन्हें इसका जवाब देना होगा.

मालूम हो कि चंद्रेशखर आजाद को उत्तरप्रदेश में यात्रा से रोका गया था, जिसके बाद बीमार होने पर उनका मेरठ के अस्पताल में इलाज हो रहा था. इसके बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी उनसे मिलने अस्पताल पहुंची थीं. उन्होंने कहा था कि एक युवक संघर्ष कर रहा है और आवाज उठा रहा है तो उसकी आवाज दबाने की कोशिश सरकार कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here