बड़े फायदे का है रम

0
39

रम पीने के फायदे बहुत सुनकर आपको थोड़ा अजीब लग सकता है लेकिन रम सिर्फ दारू नहीं दवा भी है. रम पीने से जहां इंसान को थोड़ा सुरूर मिलता है वहीं हमारी सेहत को सुकून भी. इसलिए आज हम आपको रम पीने के फायदे बताएंगे जिन्हें जानकर आपके पैरों तले जमीन खिसक जाएगी. दुनिया भर में सबसे ज्यादा पिया जाने वाला एल्कॉहल रम सेहत के लिए काफी फायदेमंद है.

क्या है रम : रम गन्ने के रस से बनती है जो मुख्य रूप से कैरीबियाई एल्कॉहल है. मध्य अमेरिका और मेक्सिको सहित कई अन्य क्षेत्रों में भी इसका उत्पादन किया जाता है. रम एक ग्लूटेन-फ्री एल्कोहल है स्वाद में मीठे के साथ थोड़ा कड़वी भी होती है. रम का स्वाद एक बारगी आपको थोड़ा फायर्ड यानि ज्वलनशील जैसा लगता है. रम पुरानी हो जाए तो यह हल्के भूरे और काले रंग में हो सकती है. रम का रंग ब्लड रेड या यलो होता. हालांकि रम का कोई सटीक इतिहास ज्ञात नहीं है लेकिन यह कैरिबियन में 500 से ज्यादा सालों से बड़े स्तर पर उत्पादित की जा रही है.

क्या आप जानते हैं रम पीने के फायदों के बारे में : रम का ब्रैंड ‘ओल्ड मॉन्क’ काफी चर्चित है. कपिल मोहन ने ‘ओल्ड मॉन्क’ रम को बनाया था और इस ब्रैंड ने दुनिया भर में धूम मचाई हुई है.कपिल मोहन ने 1954 में ‘ओल्ड मॉन्क’ रम को लॉन्च किया था. कपिल मोहन की मृत्यु 6 जनवरी, 2018 को हुई थी.

रम में एल्कोहल की मात्रा 40 से 60% तक होती है. रम वाइन के तौर पर तो पिया ही जाता है बल्कि यह कहीं-कहीं आम पेय भी है. जैसे कि रम और कोक बहुत लोकप्रिय हैं. रम अगर सही मात्रा में ली जाए तो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक नहीं होती है. रम का अत्यधिक सेवन ही सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है वरना रम के फायदे आपको चौंका देंगे. मोहन ने भी रम के पीने फायदे बताकर लोगों को जागरूक किया था. डॉक्टर्स ने भी रम पीने के फायदे बताए हैं. डॉक्टरों के मुताबिक एक सही मात्रा में रम पीने के फायदे होते हैं. यह सेहत के लिए बहुत लाभदायक है साथ ही कुछ बीमारियों में दवा की तरह है. इसलिए अब आप जान जाइए रम सिर्फ शराब नहीं है.

रम पीने के फायदे यह भी हैं कि व्यक्ति जोड़ों के दर्द से निजात पाता है. हम आपको बता दें कि रम का सेवन बॉडी पेन और जोड़ों के दर्द को काफी कम करता है. रम पीने से मांसपेशियों में होने वाले दर्द से राहत मिलती है. खासतौर पर बुढ़ापे में रम का सेवन मांसपेशियों को मजबूती प्रदान करता है. रम पीने के फायदे यह भी हैं कि यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है जिससे बीमारियों का खतरा कम होता है. रम पीने से आपसे कुछ बीमारियां कोसों दूर भागती हैं. रम के जरूरी पोषक तत्व शरीर में रोगों से लड़ने की क्षमता बढ़ाते हैं. परंतु इसके सेवन में मात्रा का ध्यान अवश्य रखें.

रम की तासीर गर्म होती है इसलिए यह शरीर को उर्जा के साथ गर्मी प्रदान करती है. रम पीने से शरीर में गर्माहट आती है. अगर कोई व्यक्ति अत्यधिक ठंड महसूस कर रहा हो तो वह रम का सेवन करें. सर्दियों में मौसम के तापमान से संतुलन बनाने के लिए रम पी लेना बेहतर होता है. रम के सेवन से शरीर को गर्माहट मिलती है.

रम पीने से मौसमी सर्दी-जुकाम बिल्कुल दूर रहता है. रम के सेवन से ठंड लगने की समस्या नहीं होती और सर्दी जुकाम ठीक हो जाता है. खासतौर पर सर्दियों में रम पीने से सर्दी-जुकाम जल्दी नहीं होता है.

रम पीने के फायदे में हम आपके सबसे पहले बता दें कि यह दिल को एकदम स्वस्थ रखती है. दिल की बीमारियों से दूर रहने के लिए रम लाभदायक है. हार्ट अटैक से लेकर कैंसर तक की बीमारियों का खतरा रम कम कर देती है. रम पीने के फायदे यह भी हैं कि इसके सेवन के तुरंत बाद से आपको अच्छी नींद आती है. बहुत से लोग बॉडी को रिलेक्स करने के लिए रम का सेवन करते हैं. रम में कुछ ऐसे तत्व होते हैं जिनसे व्यक्ति को अच्छी नींद आती है. गहरी नींद में सोने के बाद सुबह उठने पर आप तरोताजा फील करते हैं. रात को रम पीने से सोने में कोई परेशानी नहीं होती और बॉडी रिलेक्स हो जाती है.

रम के सेवन से डायबिटीज के लक्षण पहले ही दिख जाते हैं अगर आपको शुगर की समस्या हो तो रम इसको कम करने में काफी मददगार साबित हो सकती है. इसके साथ ही रम गैलस्टोन (पित्ताशय की थैली) से जुड़ी समस्याएं दूर करती है.

रम के सेवन से मानसिक शांति मिलती है लेकिन इसका सेवन कम मात्रा में ही करें वरना एल्कॉहल के नशे से हंगामा भी हो सकता है. इसलिए हम आपको बता दें कि रम के सेवन से मानसिक रोग जैसे अल्जाइमर और पार्किंसन रोग में फायदा होता है. पार्किंसन रोग केंद्रिय तंत्रिका का एक रोग है जिसमें रोगी के शरीर के अंग कंपन करते रहते हैं. अगर किसी के शरीर के अंग कांपते हो तो उसे रम का सेवन करना चाहिए परंतु यह डॉक्टर की परामर्श अनुसार ही करें. आर्टिकल पसंद आया तो शेयर जरूर करें.

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here