मोकामा विधायक अनंत सिंह (फाइल फोटो)।

मुंगेर। जब से मोकामा के विधायक अनंत सिंह ने यह कहा है कि वे मुंगेर लोकसभा सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे, तभी से महागठबंधन में हड़कंप मचा हुआ है। जमकर बयानबाजी की जा रही है। राजद नेता तेजस्वी ने उन्हें बैड एलिमेंट कहा है तो कांग्रेस नेता अखिलेश सिंह यह कहते सुने जाते हैं कि अनंत सिंह के लिए कांग्रेस टिकट देने को तैयार है। वे पार्टी टिकट पर गठबंधन के उम्मीदवार होंगे। अब इस मामले में रालोसपा भी कूद गई है। उसने भी इस बात की वकालत की है कि अनंत सिंह को महागठबंधन से चुनाव लड़ना चाहिए।

रालोसपा नेता नागमणि ने अनंत सिंह के दावे का सपोर्ट किया है और मुंगेर से चुनाव लड़ने के फैसले का स्वागत भी किया है। नागमणि ने कहा है कि वे जनाधार वाले नेता हैं। यदि महागठबंधन उनको टिकट देता है तो वे काफी मतों से मुंगेर से जीतेंगे। उन्होंने इस बात पर भी एतराज जताया है कि अनंत सिंह कोई बाहुबली और गुंडा-मवली नहीं हैं। वे इसे पूरी तरह गलत मानते हैं।

यह बयान देकर एक तरह से उन्होंने तेजस्वी के बयान का खंडन कर दिया है। इस बात के पुरजोर संकेत हैं कि अनंत सिंह ने यह तय कर लिया है कि वे मुंगेर से लोकसभा का चुनाव लड़ेंगे। महागठबंधन में शामिल कांग्रेस की ओर से उन्हें टिकट मिलने का भरोसा है। ऐसे में नागमणि के बयान के बाद यह साफ हो गया है कि महागठबंधन में तेजस्वी का विरोध बढ़ता ही जा रहा है। साथ ही उपेंद्र कुशवाहा कांग्रेस के करीब जाते भी दिख रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here