जब तक शिक्षा में सुधार नहीं होगा, तब तक खुशहाली नहीं आएगीः उपेंद्र कुशवाहा

0
15
file photo source: ANI

जहानाबाद। रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा ने गुरुवार को जहानाबाद के कुर्था से शिक्षा सुधार यात्रा की शुरुआत की। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जब तक शिक्षा में सुधार नहीं होगा, तब तक गरीबों की जिंदगी में खुशहाली नहीं आएगी उन्होंने कहा कि पटना व दिल्ली की सरकारों को उखाड़ फेंकेंगे। पहले उन्होंने सावित्री बाई फुले की तस्वीर पर माल्यार्पण किया।

बता दें कि यह यात्रा नौ दिनों तक चलेगी। आज ही के दिन सावित्री बाई का जयंती भी है। उन्होंने इस यात्रा की शुरुआत की जानकारी ट्वीटर के माध्यम से दी थी।

गौरतलब है कि एनडीए में रहते हुए उपेंद्र कुशवाहा ने बिहार में शिक्षा में गिरावट को लेकर नीतीश सरकार के खिलाफ दो दिनों का अनशन किया था। अब महागठबंधन में शामिल होने के बाद उन्होंने अपनी लड़ाई और तेज कर दी है।

कुशवाहा ने अपने ट्वीट में लिखा है कि ‘स्त्री शिक्षा की क्रांति ज्योति राष्ट्रमाता सावित्रीबाई फुले की जयंती पर अमर शहीद जगदेव बाबू की बलिदान भूमि कुर्था से अपनी शिक्षा सुधार यात्रा की शुरुआत करूंगा।’ उन्होंने यह भी लिखा है, ‘हमें पूर्ण आशा है कि बिहार के नवनिर्माण की मुहिम में सभी लोगों का स्नेहपूर्ण आशीर्वाद मिलेगा।’

गौरतलब है कि ‘शिक्षा सुधार यात्रा’ नौ दिनों तक चलेगी। इसके समापन के बाद इसकी अगली कड़ी में रालोसपा की ओर से अगले माह दो फरवरी को आक्रोश मार्च निकाला जायेगा। बता दें कि एनडीए में रहते हुए उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समक्ष बिहार में शिक्षा में सुधार को लेकर 25 सूत्री मांगों को रखा था। उन्होंने यह भी कहा था कि यदि नीतीश कुमार हमारी इन मांगों को पूरा कर देते हैं तो वो जो कहेंगे, वो मैं करूंगा। हालांकि ऐसा कुछ हुआ नहीं और बाद में कुशवाहा महागठबंधन में शामिल हो गए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here