लालू यादव से जेल-अस्पताल में जाकर सीट बंटवारे पर नहीं होगी कोई बात

0
63
file photo

पटना। लोकसभा चुनाव नजदीक आते ही बिहार में राजनीतिक पार्टियों में सीटों को लेकर बैठकों का दौरा जारी है।बिहार एनडीए में सीट बंटवारे के बाद सभी की नजर महागठबंधन में सीट बंटवारे को लेकर है। चारा घोटाले मामले में सजा काट रहे राजद सुप्रीमों लालू यादव इन दिनों रांची के रिम्स अस्पताल में अपना इलाज करा रहे है। इलाज के दौरान ही महागठबंधन के अपने साथियों से मुलाकात भी कर रहे है। इस मुलाकात के कई मायने मतलब भी निकाले जा रहे है।

गौरतलब है कि पिछले दिनों लालू यादव से मिलने वालों में लोकतांत्रिक जनता दल के नेता शरद यादव, भाजपा नेता शत्रुधन सिन्हा, रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा, सन ऑफ मल्लाह मुकेश सहनी रहे। जिनके बारे में कहा जा रहा है कि आगामी लोकसभा चुनाव में सीटों को लेकर बातचीत हुई है। इसी तरह कांग्रेस नेता डा. शकील अहमद की मुलाकात को उनके लोकसभा चुनाव लड़ने से जोड़कर देखा जा रहा है।

हांलाकि कांग्रेस ने यह साफ कर दिया है कि कांग्रेस के किसी भी नेता की लालू यादव से मुलाकात आधिकारिक तौर पर नहीं हुई है जिसमें की सीट बंटवारे को लेकर कोई बात हुई है।

सुत्रों की माने तो कांग्रेस संगठन से जुड़ा कोई अधिकारिक व्यक्ति जेल या अस्पताल में जाकर लालू यादव से मुलाकात नहीं करेगा। लालू यादव से मिले बगैर अगर सीट बंटवारे में बात नहीं बनती है तो ऐसी स्थिति में एक संवादवाहक भेजकर सीटों के बारे में बातचीत किया जा सकता है। वही विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव भी राजद के बारे में निर्णय ले सकते है। लेकिन महागठबंधन का हरेक घटक दल लालू प्रसाद से बातचीत के बाद ही इत्मीनान होना चाहता है।

राजद प्रवक्ता प्रेमचंद्र मिश्र ने कहा कि लालू प्रसाद राजद के मामले में अंतिम ऑथरिटी हैं। सीटों के मसले में निर्णायक बातचीत में अभी समय है। हम उम्मीद करते हैं कि जल्द ही वे बाहर आएंगे। उन्होंने जेल में जाकर बातचीत के सवाल पर कहा-अभी बहुत समय है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here